Difference between Void Agreement and Illegal Agreement in Hindi

वॉइड अबीदेंट और अवैध अबीदेंट के बीच क्या अंतर है?

जब हम किसी संवाद को बनाते हैं, तो हमारे द्वारा बनाए गए अनुबंधों का उपयोग किया जाता है। हालांकि, कुछ अनुबंध वॉइड या अवैध हो सकते हैं। इन दो शब्दों के बीच क्या अंतर है, इस लेख में हम बताएंगे।

वॉइड अबीदेंट का अर्थ होता है कि एक अनुबंध पहले ही किसी अन्य कानून के विरुद्ध होता है। इससे अधिक महत्वपूर्ण है कि वॉइड अबीदेंट बिना शर्त होते हुए होता है। इसे न्यायाधीश द्वारा बेमौकूफ़ और नसीहत के कारण वॉइड अबीदेंट कहा जाता है। उदाहरण के लिए, एक व्यक्ति जो चोर होता है, किसी के साथ दोस्ती नहीं कर सकता। यदि वह किसी से दोस्ती करता है और उससे एक अनुबंध बनाता है, तो वह अनुबंध वॉइड होगा।

अवैध अबीदेंट, अन्य दो अनुबंधों के बीच में अंतर होता है। इसका मतलब है कि एक अनुबंध कानून की धारा के अनुसार गलत होता है। उदाहरण के लिए, यदि कोई अनुबंध जो कानून की धारा 292 के विरुद्ध होता है, तो वह अवैध होगा।

अब, एक्सपर्ट्स कहते हैं कि एक अवैध अबीदेंट वॉइड अबीदेंट से बुरा होता है। क्योंकि एक अवैध अबीदेंट गलत होता है, इसलिए यह ना तो कानूनी होता है और ना ही किसी अनुबंध का पद करता है। इसके बावजूद, एक वॉइड अबीदेंट या अवैध अबीदेंट के बारे में जानना हमें पहले से ही एक बुरे नुकसान से बचा सकता है।

आशा है कि आपको यह लेख “वॉइड अबीदेंट और अवैध अबीदेंट के बीच क्या अंतर है” पसंद आया होगा। हमें अपनी राय के बारे में टिप्पणी करें और हमें अपने मित्रों के साथ इस जानकारी को शेयर करें।